भूत आया

चित्र
                        भूत आया जब रात का समय आता था, और बिल्कुल अंधेरा हो जाता था, तो हम सभी दोस्त बैठकर हॉरर स्टोरी सुनने के शौकीन बन जाते थे। वो सभी कहानियाँ थी जिनके किस्से और डरावने वाक्य बचपन में हमें डरा देते थे। यह कहानी एक छोटे से गाँव के एक पुराने हवेली की है, जिसका नाम बाबूराम हवेली था। इस हवेली की डरावनी कहानी आज भी गाँव के लोगों के बीच गूंथी जाती है। एक दिन, गाँव का एक युवक नामक अर्जुन उस हवेली के पास जा रहा था। वह कहानियों का शौकीन था और सब लोग उसे बाबूराम हवेली की कहानियों से डराने के लिए चिढ़ाते थे। अर्जुन ने तय किया कि वह वहाँ जाकर एक रात बिताएगा और सबको यकीन दिलाएगा कि वो कहानियों से डरने वाला नहीं है। वो रात के समय हवेली की ओर बढ़ता गया और अंधेरे में वह वहाँ पहुंच गया। हवेली का माहौल डरावना था, और सुनसान छायादार कमरों की चीखें सुनाई देने लगीं। अर्जुन ने सोचा कि यह सब सिर्फ कहानियों का हिस्सा हो सकता है, और वह एक नींद का निवास ढूंढ लेगा। वह एक कमरे में चला गया और अपनी बिस्तर पर बैठ गया। लेकिन तब वह सुना कि कुछ अजीब आवाजें आ रही हैं। बर्फ की किरनों के आवाज, क़दमों की थ

पुराना महल रियल हॉरर स्टोरी


                  पुराना महल की डरावनी                               स्टोरी



नमस्कार दोस्तों आज फिर पुरानी हॉरर स्टोरी के साथ जो कि एक राज महल की  राजस्थान जय जय यपुर शहर में स्थित एक पुराना महल है जिसे हॉरर कथाओं और रहस्यों से घिरा हुआ माना जाता है। यह कहानी कई साल पहले की है, जब यह महल एक नवाब शासित इलाके में स्थित था।

महल का अस्तित्व तब से चल रहा था जब एक घटना घटी। नवाब के पुत्री रानी शालिनी, जो बहुत ही सुंदर और प्रेमालापी थी, नए महल में अपना निवास स्थापित किया। परंपरागत भर्तृहरि गुफा के साथ बने महल में विवाहित होने के बाद शालिनी को स्वस्थ और सुखी जीवन की कामना की गई!

परंतु, वक्त के साथ ही महल में अजीबोगरीब घटनाएं होने लगीं। रात्रि में शालिनी अक्सर आवाज़ सुनती थी और आहातों का अनुभव करती थी, जो उसे व्याकुल कर देते थे। धीरे-धीरे वह भय के बोझ के तहत दबने लगी और उसकी स्वास्थ्य सुधारने लगी।

कुछ समय बाद, एक तेज बारिश के दिन शालिनी को अपने कक्ष में एक मृत नवाब शव दिखाई दिया। उसे बच्ची की आवाज़ सुनाई दी और उसके ऊपर खून के छिपकली के छिपकले घूम रहे थे। यह अनुभव शालिनी को भयावह महसूस करवाता था।

शालिनी को समझ में नहीं आ रहा था कि महल में क्या हो रहा है। वह एक वेताल के पास गई जिसने उसे राजा के पुराने रहस्यों के बारे में बताया। यह महल पुराने राजा की योग्यता की वजह से उसके शरीर में अस्तित्व में था और यह नवाब शालिनी को जीने नहीं देना चाहता था। वह उसे इस नवाब के रहस्यमय जीवन में खींच ले जाने के लिए इस्तेमाल कर रहा था।

शालिनी ने इसे रोकने के लिए नवाब की आत्मा से मदद मांगी और उसे इस दुनिया से परे जाने के लिए कहा। नवाब ने शरीर छोड़ दिया और शालिनी को अपनी आत्मा के साथ चलने की अनुमति दी। उसके बाद से पुराना महल भूतों की संगति का निवास स्थान बन गया।

आज भी, जब रात के अंधकार में चाँदनी छिड़कती है, तो कहानी सुनाई देती है कि पुराना महल में अद्भुत और भयानक घटनाएं होती हैं। लोग इसे देखने के लिए महल के पास नहीं जाते क्योंकि वहां आई दुखद घटनाओं के बारे में कहानियाँ फैलती हैं। पुराना महल हमेशा ही हॉरर स्टोरी कहानियों का एक मनोहारी स्रोत रहा है।

पुराना महल रियल हॉरर स्टोरी



यह कहानी एक पुराने रियासती महल की है, जिसे पुराने भूतिया किस्सों से घिरा हुआ था। इस महल का नाम पुराना महल था, जो अपनी भूतिया और भयानक वातावरण के लिए जाना जाता था। यह कहानी एक तबक्कुली दिन की है, जब महल में कुछ लोगों ने रात बिताने की योजना बनाई थी।

वे सभी दोस्त थे और एक दूसरे के साथ अपने खास पल बिताने के लिए पुराने महल के रास्ते निकले। रास्ते में, वे एक भूतिया डाक बंगला देखते हैं जिसमें कहते हैं कि भूतों का बसेरा है। परन्तु उन्होंने इसे ध्यान नहीं दिया और अपनी राह जारी रखी।

जब वे पुराने महल पहुंचे, तो उन्हें वहां एक अजीब सी सन्नाटी वातावरण मिली। महल की दीवारों से कुछ अनोखे आवाज़ आती थी, और उनको ऐसा लगता था कि कोई उन्हें देख रहा है। परन्तु वे यह सोचकर दिल से इनकार कर देते थे कि शायद वे सिर्फ डर रहे हैं।

उन्होंने महल के अंदर जाने का निर्णय किया और वहां एक भूतिया महिला की मूर्ति देखी। धीरे-धीरे, वे भयभीत होने लगे क्योंकि वह मूर्ति बदलती नजर आने लगी। उन्होंने जब इस बात को देखा, तो वे भागने के लिए तत्पर हो गए।

परन्तु जैसे ही वे वापसी करने लगे, उन्हें पूरे महल में अलग-अलग कमरों की गहरी आवाज़ें सुनाई देने लगीं। उन्होंने दौड़ते हुए कोशिश की कि निकल जाएँ, परन्तु एक भूतिया शव उनके रास्ते में आ गया। वे सब उसकी ओर बढ़े, परन्तु जैसे ही वह उनके पास पहुंचा, शव बोला, "तुम सब यहाँ कैसे आ गए? यह मेरा महल है।"

यह सुनकर उन्हें ताकत छूट गई और वे अपने दोस्तों के साथ तुरंत बाहर निकल पड़े। उन्होंने यह अनुभव किया कि भूतियों के बिना यह महल वास्तव में खाली था, लेकिन उन्हें यह कभी भी नहीं पता चला कि उन्होंने वास्तव में एक भूतिया महल के अंदर घुसने की कोशिश की थी या यह सब उनकी कल्पना की खेल थी।






टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अनोखा पैलेस

भूत आया