भूत आया

चित्र
                        भूत आया जब रात का समय आता था, और बिल्कुल अंधेरा हो जाता था, तो हम सभी दोस्त बैठकर हॉरर स्टोरी सुनने के शौकीन बन जाते थे। वो सभी कहानियाँ थी जिनके किस्से और डरावने वाक्य बचपन में हमें डरा देते थे। यह कहानी एक छोटे से गाँव के एक पुराने हवेली की है, जिसका नाम बाबूराम हवेली था। इस हवेली की डरावनी कहानी आज भी गाँव के लोगों के बीच गूंथी जाती है। एक दिन, गाँव का एक युवक नामक अर्जुन उस हवेली के पास जा रहा था। वह कहानियों का शौकीन था और सब लोग उसे बाबूराम हवेली की कहानियों से डराने के लिए चिढ़ाते थे। अर्जुन ने तय किया कि वह वहाँ जाकर एक रात बिताएगा और सबको यकीन दिलाएगा कि वो कहानियों से डरने वाला नहीं है। वो रात के समय हवेली की ओर बढ़ता गया और अंधेरे में वह वहाँ पहुंच गया। हवेली का माहौल डरावना था, और सुनसान छायादार कमरों की चीखें सुनाई देने लगीं। अर्जुन ने सोचा कि यह सब सिर्फ कहानियों का हिस्सा हो सकता है, और वह एक नींद का निवास ढूंढ लेगा। वह एक कमरे में चला गया और अपनी बिस्तर पर बैठ गया। लेकिन तब वह सुना कि कुछ अजीब आवाजें आ रही हैं। बर्फ की किरनों के आवाज, क़दमों की थ

डरावनी कहानी


User





एक लड़का कहानी में खो गया और वह वर्णन करने लगा कि रात के समय जब रात की रानी उस हवेली में आती है, तो उसकी आवाज़ सुनाई देती है। तभी आवाज़ उसी के कानों में सुनाई दी - "कौन है वह जो मेरी कहानी सुन रहा है?"

सभी बच्चे चौंक गए और लड़का भी डर से कांपने लगा। वह लड़का बोला, "मैं ही हूँ, बास्कर। मैं आपकी कहानी सुनना चाहता हूँ।"

धीरे-धीरे, लड़का अपनी कहानी जारी रखने लगा और सब भयभीत हो गए। उनकी आंखों के सामने रात की रानी की आत्मा सबके सामने उभरने लगी।

बच्चों ने चिल्लाया और हवेली के आसपास दौड़ने लगे। रात की रानी की आत्मा उनकी पीछे-पीछे थी, चीखों के साथ। सब बच्चे अंधेरे जंगल में चले गए, बिल्कुल भटक गए।

अगली सुबह, गांव के लोग उन्हें खोजने निकले। उन्होंने चारों ओर ढूंढ़ा और अंत में उन्हें अंधेरे जंगल में खोजा। सभी बच्चे भयभीत थे और रो रहे थे।

सभी ने यह देखा कि वे जंगल के एक छोटे से मंदिर के सामने पहुंचे हैं जहां रात की रानी की प्रतिमा स्थापित थी। सभी बच्चे वहीं शांति पाए और डर दूर हो गया।

इस कहानी से सबक यह है कि कहानियाँ कभी-कभी हमारे अंदर के भय को जगाती हैं, लेकिन हकीकत में हमारे अंदर ही उस भय का समाधान होता है। बस हमें अपने अंदर की ताकत को खोजना होता है और उसे उजागर करना होता है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुराना महल रियल हॉरर स्टोरी

अनोखा पैलेस

भूत आया